Customer Review

13 August 2018
मैं आमतौर पर किताबें एमेजन से नहीं मंगवाता। लेकिन प्रियंका ओम का दूसरा कहानी संग्रह-मुझे तुम्हारे जाने से नफ़रत है मैंने एमेजन से ही मंगवाया। 183 पेज के इस कहानी संग्रह में पांच कहानियां हैं। आश्चर्यजनक रूप से मैं पूरा संग्रह सिंगल सिटिंग में ही पढ़ गया। बाद में इसकी वजहें खोजी दो वजह पाई गईं। पहली, सभी कहाननियां प्रेम के ईर्द गिर्द घूमती हैं। और प्रेम हमेशा से ही एक पठनीय विषय है। दूसरी वजह थी, कहानियों का सहज, सरल और इकतरफा होना। कहानियां पढ़ते समय यही लगता रहा कि काश हम भी युवा होते। मुझे तुम्हारे जाने से नफ़रत है मैं जाहिर है जाना माता पिता, भाई बहन या अन्य किसी रिश्ते का खो जाना नहीं है। यह जाना दरअसल पूर्व प्रेमी या प्रेमिका का जाना है। या जीवन के किसी मोड़ पर इनका वापस आ जाना है। और मैं आगे बढ़ गई में नायिका को ट्रेन में अपना एक पुराना दोस्त मिलता है, जो कभी उससे प्यार करता था। लेकिन किशोरावस्था से ही उसे अपनी पत्नी मानने की जिद उसे नायिका से दूर कर देती है। बल्कि नायिक खुद यह फैसला करती है कि वह उससे शादी नहीं करेगी। ट्रेन में हुई यह मुलाकात पुरानी स्मृतियों को ताजा कर जाती है। सफर यहीं खत्म हो जाता है। मुझे तुम्हारे जाने से नफ़रत है में पूर्व प्रेमिका (या शायद वर्तमान भी) अचानक अपने प्रेमी के घर पहुंच जाती है। दोनों मुलाकात फिर स्मृतियों के रास्ते मुड़ जाती है। अंत में नायक कहता है, तुम हमेशा जाने के लिए क्यों आती हो? नायिका जवाब देती है, तुमसे दूर जाने मेरी नियति है और नायक फिर कहता है, हमेशा से मुझे तुम्हारे दूर जाने से नफ़रत है। कहानी खत्म हो जाती है। इसी तरह तीन प्रेम पत्र कहानी में तीन किशोर लड़कियों के प्रेम संबंधों को दर्शाया गया है। इन सभी कहानियों को पढ़ते हुए यही लगता है कि आपकी उम्र अभी तक 18साल से ऊपर नहीं पहुंची है। लेकिन संग्रह की सबसे बेहतरीन कहानी है लास्ट काफी। इसमें एक विवाहित महिला एक युवा लड़के से मिलती है। दोनों के बीच संवाद शुरू होते हैं। और कहानी की कई परतें खुलती चली जाती हैं। यह इकलौती कहानी है जो आपके दिल पर नहीं जेहन पर असर डालती है। प्रियंका ने कहानी को कई स्तरों पर चलाया है। यह संग्रह की सबसे खूबसूरत कहानी है। लेकिन प्रेम आज के दौर में फैशन भी है और शायद जरूरत भी। इसलिये युवाओं को यह संग्रह पसंद आएगा और शायद आ भी रहा है। लेकिन मुझे यही लगता है कि कहानियों में प्रेम की नयी डाइमेंशंस होनी बेहद जरूरी हैं।
3 people found this helpful
0Comment Report abuse Permalink

Product Details

4.4 out of 5 stars
125
₹ 49.00